IMPS क्या है व कैसे काम करता है | IMPS Full Form

 
IMPS Kya Hai: नमस्कार दोस्तों, इस लेख में हम IMPS से संबंधित जानकारी देंगे। आपने RTGS/NEFT  बैंकिंग सेवा के बारे में तो सुना ही होगा जिसके सहायता से आप ऑनलाइन पैसे ट्रांसफर कर सकते है। इसी तरह IMPS भी एक बैंकिंग सेवा है जिसके द्वारा आप अपने स्मार्ट मोबाइल से आसानी से पैसे ट्रांसफर कर सकते है। लेकिन IMPS सेवा का लाभ उठाने से पहले आपको इसके बारे में जानकारी होना बहुत जरुरी है ऐसे में यदि आप इसके बारे में ज्यादा नहीं जानते तो हमारे इस लेख पर अंत तक बने रहे। इस लेख में हम आपको IMPS Full Form in Hindi, आईएमपीएस क्या होता है, IMPS से पैसे ट्रांसफर कैसे करे, IMPS से पैसे भेजने के लिए किसी आवश्यकता होती है आदि के बारे में विस्तार से जानकारी देंगे। 

IMPS Full Form

 

IMPS Full Form in Hindi

IMPS का full form “Immediate Payment Service”  होता हैं। हिंदी में आईएमपीएस को तत्काल भुगतान सेवा कहते है। IMPS के द्वारा आप आसानी से तुरंत पैसे ट्रांसफर कर सकते है। 

IMPS क्या है 

IMPS बैंकिंग सेवा NPCI (National Payment Corporation of India) के तहत कार्य करती है।आईएमपी एक ऐसी बैंकिंग सुविधा है जिसकी मदद  से आप वास्तविक समय में दूसरे के बैंक खाते में पैसे ट्रांसफर कर सकते है साथ ही साथ अपने बैंक खाते में पैसे प्राप्त भी कर सकते है। IMPS सेवा मोबाइल बैंकिंग और इंटरनेट बैंकिंग के जरिये एक बैंक से दूसरे बैंक में ऑनलाइन ट्रांजेक्शन करने की सुविधा प्रदान करता है। IMPS सुरक्षित होने के साथ साथ आर्थिक और गैर वित्तीय दोनों दृष्टियों से काफी ज्यादा किफायती भी है। 
 
जहाँ एक तरह RTGS और NEFT में पैसो का लेनदेन करने में कुछ समय लगता है, वही इसके विपरीत IMPS पैसे ट्रांसफर करने में ज्यादा समय नहीं लेता इसमें तत्काल पैसे ट्रांसफर हो जाते है। यही वजह से अधिकतर लोग फंड ट्रांसफर करने के लिए आईएमपीएस का इस्तेमाल करते है। एक और मुख्य बात IMPS सेवा साल के 365 दिन, 24 घंटे उपलब्ध रहता है। यानि आप जब चाहे इससे फंड ट्रांसफर कर सकते है। 
 
इसके अलावा जहाँ एक ओर बैंक छुट्टियों के दिन बंद रहता है वही IMPS हमेशा उपलब्ध रहता है। कभी कभी सर्वर डाउन होने के कारण फंड ट्रांसफर करने में कुछ समय लग सकता है लेकिन इसमें चिंता करने वाली कोई बात नहीं है, क्युकी आपके द्वारा ट्रांसफर किया गया फंड उसी दिन ट्रांसफर हो जाता है। 

IMPS के लाभ 

NPCI के द्वारा शुरू किये गए IMPS सेवाएं अपने उपयोगकर्ताओं को कई सारे लग प्रदान करती है जो इस प्रकार है। 
 
उपयोग में आसान
आज के समय में लगभग हर कोई स्मार्ट फोन यूजर होता है, और एक स्मार्ट फोन यूजर ज्यादातर काम अपने मोबाइल से ही करना पसंद करता है। IMPS सेवा काफी ज्यादा मोबाइल फ्रेंडली है जिसके कारण इसका इस्तेमाल करना काफी ज्यादा आसान हो जाता है। इस सेवा का लाभ आप अपने मोबाइल फोन में जब चाहे उठा सकते है। 
 
हमेसा उपलब्ध रहना 
IMPS की सबसे अच्छी बात है कि यह हर समय उपलब्ध रहता है। आप कितने भी समय इससे फंड ट्रांसफर कर सकते है। उदाहरण के लिए, किसी दूसरे शहर में रह रहे आपके दोस्त को पैसे की जरूरत है, तो आप आईएमपीएस की सहायता से तुरंत पैसे भेज सकते है। आपको पैसे भेजने के लिए बैंक में जाकर लाइन लगाने की जरूरत नहीं होगी यह अगर उस दिन बैंक बंद है तो उससे आपको कोई परेशानी नहीं होगी। ऐसी परिस्थितियो में आईएमपीएस काफी ज्यादा फायदेमंद हो जाता है, क्युकी बैंक बंद होने या सार्वजानिक छुट्टी होने पर भी आप किसी भी समय पैसे ट्रांसफर करने में सक्षम होते है। 
 
तत्काल भुगतान सुविधा 
कई बार ऐसा होता है कि, आपको अपने परिवार वालो को  तुरंत पैसे ट्रांसफर करने होते है, हालाँकि आप NEFT या RTGS का इस्तेमाल फंड ट्रांसफर के लिए कर  सकते है लेकिन उसमे भी पैसे ट्रांसफर होने में कुछ घंटो का समय तो लग ही जाता है। वही दूसरी तरफ IMPS आपको तत्काल भुगतान करने की सुविधा प्रदान करता है। यहाँ तक की कुछ तकनिकी परेशानी  आने के बाद भी यह एक घंटे के भीतर पैसे ट्रांसफर कर देता है।  
कई तरीको से भुगतान की सेवा 
IMPS में पैसे ट्रांसफर करने के लिए बहुत सारे तरिके होते है जैसे की इंटरनेट बैंकिंग, मोबाइल बैंकिंग, ATM या SMS आदि। अगर आपके पास इंटरनेट की सुविधा नहीं है तो आप SMS के माध्यम से भी पैसे भेज सकते है। अगर आप इंटरनेट बैंकिंग के  माध्यम से पैसे भेजना चाहते है तो उसे लिए आपको अकाउंट नंबर , IFSC कोड आदि जानकारी देने की आवश्यकता होगी।
सुरक्षित 
IMPS पैसे ट्रांसफर करने के मामले में काफी ज्यादा सुरक्षित है, लेकिन यदि उपयोगकर्ता गलती से किसी गलत मोबाइल नंबर या गलत MMID में पैसे ट्रांसफर कर देता है, तो इसकी पूरी जिम्मेदारी  उपयोगकर्ता की होगी।
अगर आप गलती से किसी गलत अकाउंट पर पैसे ट्रांसफर कर देते हो, तो आप रिफंड के लिए अपने बैंक शाखा में सम्पर्क कर सकते है।
इसके अलावा मोबाइल बैंकिंग के जरिये IMPS करने पर आपको किसी भी प्रकार की बैंकिंग जानकारी जैसे अकाउंट नंबर, IFSC कोड की आवश्यकता नही होती। इससे पैसे ट्रांसफर करने के लिए सिर्फ मोबाइल नंबर और MMID की जरूरत होती है। हालाँकि जब आप इंटरनेट बैंकिंग की मदद से पैसे ट्रांसफर करते है तब आपको अकाउंट नंबर, IFCS कोड जैसे बैंकिंग जानकारी की आवश्यकता पड़ेगी।

IMPS कैसे काम करता है 

IMPS को आमतौर पर मोबाइल पर फंड ट्रांसफर करने के लिए तैयार किया गया है। मोबाइल से IMPS करने के लिए उपयोगकर्ता को सिर्फ अपने बैंक शाखा में जाकर मोबाइल बैंकिंग को शुरू करवाना होगा। यदि आप इंटरनेट बैंकिंग के  माध्यम से IMPS  करना चाहते है तो उसके लिए आपको बैंक शाखा में जाकर इंटरनेट बैंकिंग सुविधा को शुरू करवाने की जरूरत होगी। 
 
 मोबाइल बैंकिंग के माध्यम से IMPS करने के लिए आपको सबसे पहले अपने मोबाइल पर बैंक से संबंधित मोबाइल बैंकिंग एप्लीकेशन को डाउनलोड करने की जरूरत होगी साथ ही साथ 7 अंक का MMID (मोबाइल मनी आइडेंटीफायर ) बनाना होगा। MMID मोबाइल बैंकिंग के लिए जरुरी है इसके बिना सेवा का लाभ नहीं उठा पाएंगे। बैंक खाते में पैसे ट्रांसफर करने के लिए आपको लाभार्थी के MMID और बैंक खाते में पंजीकृत मोबाइल नंबर की जरूरत होगी। 
 
आज के समय में ज्यादातर उपयोगकर्ता मोबाइल बैंकिंग के माध्यम से IMPS करना पसंद करते है क्युकी मोबाइल बैंकिंग से IMPS करने के लिए अकाउंट नंबर, IFSC कोड आदि बैंकिंग जानकारी देने को कोई जरूरत नहीं पड़ती। IMPS से न्यूनतम 1 रूपए और अधिकतम 2 लाख तक एक बार में पैसे ट्रांसफर किये जा सकते है। पैसे ट्रांसफर की लिमिट हर बैंक में अलग अलग भी हो सकती है।

IMPS का उपयोग कैसे करे 

IMPS के द्वारा पैसे ट्रांसफर करना NEFT / RTGS जैसे सेवाओं की तुलना में सरल है। वैसे तो बहुत से तरीके हैं जिनके जरिये आप IMPS में पैसे ट्रांसफर कर सकते है। लेकिन हम आपको मोबाइल बैंकिंग के माध्यम से IMPS करने के बारे में बताएंगे। 
मोबाइल बैंकिंग से IMPS करना
  • सबसे पहले आपको अपने बैंक से संबंधित मोबाइल बैंकिंग एप्लीकेशन को डाउनलोड करना होगा।
  • इसके बाद इसमें लॉगिन करके, आपको फंड ट्रांसफर टैब में IMPS विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद लाभार्थी का मोबाइल नंबर, MMID, और राशि दर्ज करना होगा।
  • इसके बाद आपको OTP और  MPIN के माध्यम से Transaction को वेरीफाई करना होगा।
  • जैसे ही आप अपना mPIN वेरीफाई करने है लाभार्थी के अकाउंट में कुछ सेकंड में पैसे ट्रासंफर हो जाते है।
  • इसके बाद आपको बैंक के तरफ से एक SMS प्राप्त होगा जिसमे आपके द्वारा किये गए फंड ट्रांसफर के बारे में पूरी जानकारी तथा एक reference number होगा।
  • इस reference number को आप अपने पास सुरक्षित रखे ताकि कुछ परेशानी हो जाने पर आप इसे बैंक को दिखा सकते।
वैसे तो आप इंटरनेट बैंकिंग के द्वारा भी IMPS कर सकते है। लेकिन इसके लिए  आपका इंटरनेट बैंकिंग सेवा शुरू होना अनिवार्य है। यदि आपका इंटरनेट बैंकिग शुरू नहीं है तो आप अपने बैंक शाखा में जाकर इसे शुरू करवा सकते है। इंटरनेट बैंकिंग से IMPS करने के लिए आपको Beneficiary का अकाउंट नंबर, IFSC कोड की आवश्यकता होगी। 
 

IMPS का इस्तेमाल करते समय ध्यान देने योग्य बाते 

IMPS फंड ट्रांसफर करने  का सबसे तेज और सुरक्षित तरीका है लेकिन थोड़ी सी लापरवाही आप पर भारी भी पड़ सकती है। IMPS में फंड ट्रांसफर करते समय आपको निम्नलिखित बातो को ध्यान में रखना चाहिए जैसे –
  • IMPS में पैसे ट्रांसफर करने के लिए आपके पास मोबाइल बैंकिंग का होना जरुरी है। साथ ही साथ दोनों पक्षों का MMID नंबर भी जरुरी होता है। आप MMID नंबर अपने मोबाइल बैंकिंग की सहायता से जनरेट कर सकते है। 
  • इंटरनेट से IMPS थोड़ा कठिन है क्युकी इसमें आपको अकाउंट नंबर, IFSC कोड, Beneficiary का मोबाइल नंबर, MMID जैसे कई सारी जानकारी डालने की जरूरत होती है। ऐसे में अधिक जानकारी दर्ज करने में कई बार गलती भी हो सकती है और फंड ट्रांसफर करते समय थोड़ी सी भी गलती आपका भारी नुकसान भी करा सकता है। 
  • RBI के दिशानिर्देश के अनुसार IMPS या अन्य तरिके से फंड ट्रांसफर करते समय उपयोगकर्ता को सभी जानकारी को अच्छे से एक से दो बार जाँच लेना चाहिए क्युकी गलती से अगर गलत अकाउंट में पैसे ट्रांसफर हो जाते है, तो वह पैसे आपको लाभार्थी के सहमति से ही वापस हो सकते है। 
  • IMPS मोबाइल बैंकिंग से करे या इंटरनेट बैंकिंग से, आपके पास इंटरनेट कनेक्शन का होना जरुरी है। बगैर इंटरनेट के आप IMPS नहीं कर सकते। 

IMPS करने के शुल्क 

आईएमपीएस की सहायता से आप कभी भी अधिकतम 2 लाख तक पैसे ट्रांसफर कर सकते है। सभी बैंको के द्वारा IMPS पर अलग अलग शुल्क लगाया जाता है। यह शुल्क आपके द्वारा ट्रांसफर की गयी राशि पर निर्भर करता है। IMPS के द्वारा प्रत्येक ट्रांजक्शन पर 5 रूपए से लेकर 25 रूपए तक शुल्क लगाए जाते है साथ ही इस शुल्क में अलग से GST भी देना होता है। 
 
इसे भी जरूर पढ़े –
निष्कर्ष 
अब आप भली भांति IMPS के बारे में जान गए होंगे। इस लेख में हमने IMPS Full Form in Hindi, IMPS क्या होता है यह कैसे काम करता है, मोबाइल बैंकिंग से आईएमपीएस कैसे करते है के बारे में जानकारी दिया है। इसके साथ ही हमने IMPS के लाभ और इसे करने के लिए ध्यान योग बातो के बारे में भी बताया है। 
 
मैं आशा करता हूँ, हमारे द्वारा इस लेख में उपलब्ध कराई गयी जानकारी आपके लिए उपयोगी रही होगी। यदि आपको इस लेख की जानकारी अच्छी लगे तो इसे शेयर जरूर करे। और इस लेख से जुड़े किसी तरह का सवाल या सुझाव हो तो कमेंट में लिखकर जरूर बताये। हमारा लेख पढ़ने के लिए शुक्रिया

Leave a Comment