सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

BPEd Full Form - BPEd कोर्स क्या है कैसे करे पूरी जानकारी


वर्तमान समय में हर विद्यार्थी अपना अच्छा करियर बनाना चाहते है। जिसके लिए विद्यार्थी पूरी लगन के साथ पढ़ाई भी करते है। वैसे तो आज के समय में छात्रों के पास कई सारे करियर विकल्प मौजूद है। सभी छात्र अपने भविष्य के बारे में सोचते हुए बेहतरीन कोर्स करने का प्रयास करते है। 

यदि आप भी 12वी करने के बाद किसी ऐसे कोर्स की तलाश कर रहे है जिसे करने के बाद अपना अच्छा खासा करियर बना सके, साथ ही विदेश में भी काम करने का मौका मिले तो आपके लिए BPEd एक बेहतरीन करियर विकल्प हो सकता है। इस कोर्स को करने के बाद आप फिजिकल फिटनेस के क्षेत्र में  अच्छा करियर बना सकते है। 

क्युकी आज के समय में हर कोई अपने शारीरिक स्वास्थ्य को लेकर अधिक ध्यान दे रहे है ऐसे में आप BPEd कोर्स को चुनकर फिजिकल फिटनेस में भविष्य बना सकते है। इस लेख में हम आपको BPED Full Form, BPEd कोर्स क्या है कैसे करे, बीपीएड के लिए योग्यता, बीपीएड कोर्स फीस, बीपीएड करने के बाद करियर विकल्प आदि के बारे में विस्तार से जानेगे। 

BPEd Full Form


क्या है बीपीएड कोर्स (B.P.Ed Course Details in Hindi)

B.P.Ed का फुल फॉर्म "Bachelor in Physical Education" होता है। यह शारीरिक शिक्षा से जुड़ा एक अंडर ग्रेजुएट कोर्स है। यह कोर्स तीन से चार सालो का होता है। जिन छात्रों ने 12वी कक्षा उत्तीर्ण कर लिया है वे बीपीएड कोर्स कर सकते है। इसके अलावा ग्रेजुएशन की डिग्री हासिल करने वाले छात्र भी इस कोर्स में एडमिशन ले सकते है। 

 इस कोर्स में आपको शारीरिक शिक्षा से जुड़े कई सारे पहलुओ के बारे में विस्तार से जानकारी दिया जाता है। इस कोर्स में छात्रों को शारीरिक स्वास्थ्य, योग, मानसिक स्वास्थ्य, खेल जैसे कई सारे विषयो के बारे में पढ़ाया जाता है।

इस कोर्स को पूरा करने के बाद छात्र स्पोर्ट, योग शिक्षक, फिटनेस सलाहकार आदि के तौर पर अपना भविष्य बना सकते है। बीपीएड कोर्स करने के बाद छात्र सरकारी तथा प्राइवेट क्षेत्र में नौकरी के लिए आवेदन कर सकते है।  

यह कोर्स मूख्य तौर पर शारीरिक टीचर, योग शिक्षक, खेल शिक्षक, स्पोर्ट कोच, स्पोर्ट जर्नलिस्ट आदि बनने के तैयार किया गया है। ऐसे में यदि आपकी रूचि खेल कूद, फिटनेस में है तो बीपीएडी कोर्स यह बेहतर कोर्स हो सकता है आप भौतिक शिक्षा के शिक्षक के तौर पर सरकारी तथा प्राइवेट स्कूल में नौकरी कर सकते है साथ ही अच्छा वेतन भी प्राप्त कर सकते है। 

किसी शिक्षण संस्थान में भौतिक शिक्षा के शिक्षक बनने के लिए यह कोर्स अनिवार्य माना जाता है इस कोर्स में आपको वैदिक शारीरिक शिक्षा जैसे कैसे सारे विषयो के बारे में पढ़ाया जाता है जो इस प्रकार है -
  • योग प्राणायाम 
  • नुट्रिशन 
  • वेट मैनेजमेंट 
  • स्पोर्ट मैनेजमेंट 
  • हेल्थ एजुकेशन 
  • एनोटॉमी आदि 

बीपीएड कोर्स के लिए योग्यता (Eligibility of B.P.Ed)

  • BPEd course में प्रवेश लेने के लिए आपको12वी कक्षा उत्तीर्ण होना अनिवार्य है साथ ही आपके 12th में न्यूनतम 50% अंको का होना भी जरुरी है। 
  • BPEd  करने के लिए आप किसी भी स्ट्रीम से 12वी पास कर सकते है लेकिन आपके 12वी में शारीरिक शिक्षा से जुड़ा विषय होना जरुरी है। भले ही यह विषय आपके Main Subject या फिर एक्स्ट्रा विषय के तौर पर क्यों न हो। 
  • इसके अलावा सरकारी या भारत के बेस्ट प्राइवेट कॉलेज में प्रवेश लेने के लिए  Physical Education entrance exam पास करना भी जरुरी होता है। 

B.P.Ed course कैसे करे 


B.P.Ed कोर्स में प्रवेश लेने के लिए सबसे पहले आपको किसी भी स्ट्रीम से 12वी कक्षा न्यूनतम 50% अंको के साथ उत्तीर्ण करना होगा। इसके अलावा इस  कोर्स में प्रवेश लेने के लिए एंट्रेंस एग्जाम भी उत्तीर्ण करना होगा। 

इस कोर्स में प्रवेश 12th में आये अंक और एंट्रेंस एग्जाम में आये अंक के आधार पर दिया जाता है। कई सारे ऐसे प्राइवेट कॉलेज है जो इस कोर्स में एडमिशन 12वी के अंको के आधार पर दे देते है। वही सरकारी कॉलेज या फिर देश के बेस्ट कॉलेज में प्रवेश एंट्रेंस एग्जाम में आये अंको के आधार पर मिलता है। 

इसलिए यदि आप किसी सरकारी कॉलेज से इस कोर्स को करना चाहते है तो उसके लिए आपको फिजिकल एजुकेशन एंट्रेंस एग्जाम को अच्छे अंको के साथ पास करना होगा। 

एंट्रेंस एग्जाम को पास करने के बाद आपको कॉन्सलिंग के लिए बुलाया जाता है जहा आपको अपने सारे जरुरी दस्तावेज जमा करने होते है साथ ही आपको कॉन्सलिंग फीस भी जमा करना होता है। कॉन्सलिंग प्रक्रिया पूरी होने के बाद ही कॉलेज का अलॉटमेंट होता है। 

सबसे जरुरी बात, एंट्रेंस एग्जाम में आपके  जितने अच्छे अंक आएंगे सरकारी कॉलेज में सीट मिलने के आसार भी बढ़ जायेंगे। इसलिए आप एंट्रेंस एग्जाम की तैयारी पहले से ही शुरू कर दे। 

B.P.Ed एंट्रेंस एग्जाम 


वैसे तो बीपीएड कोर्स में प्रवेश लेने के लिए राज्य तथा नेशनल स्तर पर कई सारे प्रवेश परीक्षाओ का आयोजन होता है। उनमे से कुछ प्रमुख परीक्षाएं इस प्रकार है -
  • BHU UET
  • ITM NEST
  • LPU NEST
  • Dibrugath University Entrance Exam

इन परीक्षाओ के माध्यम से आप देश के बेस्ट कॉलेज में प्रवेश ले सकते है। 

बीपीएड कोर्स क्यों करे 


खेल और शारीरिक फिटनेस एक ऐसा क्षेत्र है जहाँ करियर के कई सारे अवसर  मौजूद है। आज के वक्त में लोग अपने स्वास्थ्य के प्रति काफी ज्यादा ध्यान दे रहे है।  लोग अपने आप को मानसिक और शारीरिक तौर पर स्वस्थ रखने के लिए अपने रोजमर्रा के जीवन शैली में योग और जिम जैसी गतिविधियों को शामिल कर रहे है। शारीरिक शिक्षा में स्नातक छात्रों के लिए करियर के कई सारे दरवाजे खोज देता है। बीपीएड कोर्स में खेल और शारीरिक गतिविधियों जैसे योग, एरोबिक्स, व्यायाम और भी बहुत कुछ शारीरिक फिटनेस के बारे में जानने और शिक्षित होने के लिए बहुत कुछ है। 

Top Best College for B.P.Ed Course 


आज के वक्त में लगभग सभी शिक्षण संस्थानों में एक फिजिकल एजुकेशन शिक्षक को जरुरी होती है। इसी कारण से BPEd course में तेजी देखने को मिली है। वैसे तो देश में कई सारे संस्थान है जो फिजिकल एजुकेशन की पढ़ाई कराते है उनमे से कुछ बेस्ट संस्थान के नाम इस प्रकार है -
  • बनारस हिन्दू यूनिवर्सिटी (BHU)
  • लवली प्रोफेशनल यूनिवर्सिटी (LPU)
  • महात्मा गाँधी यूनिवर्सिटी (कोट्टायम )
  • चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी 
  • पंजाब यूनिवर्सिटी 
  • लखनऊ यूनिवर्सिटी 
  • ज्योतिबा कॉलेज ऑफ़ फिजिकल एजुकेशन, नागपुर 
  • अन्नामलाई यूनिवर्सिटी 
  • छत्रपति शाहू जी महाराज यूनिवर्सिटी (कानपूर )
  • अलीगढ मुस्लिम यूनिवर्सिटी 
  • सावित्रीबाई फुले पुणे यूनिवर्सिटी 
  • एमिटी यूनिवर्सिटी (नोएडा )
  • जादवपुर यूनिवर्सिटी (कोलकाता )
  • रबीन्द्रनाथ टैगोर यूनिवर्सिटी (भोपाल )

बीपीएड कोर्स फीस 

बीपीएड कोर्स की फीस इस बात पर निर्भर करता है कि आप कौन से कॉलेज में एडमिशन ले रहे हो। आप अच्छे से जानते है सरकारी कॉलेज और प्राइवेट कॉलेज की फीस में काफी ज्यादा अंतर रहता है। इसलिए यदि आप किसी सरकारी कॉलेज से इस कोर्स को करते है तो कम फीस लगेगी वही प्राइवेट कॉलेज से कोर्स करने में ज्यादा फीस लगेगा। 

अगर अनुमानित फीस की बात की जाए तो सरकारी कॉलेज में इस कोर्स को करने में 10,000 से 50,000 सालाना फीस लग सकता है। वही प्राइवेट कॉलेज में 40,000 से 1.5 लाख का फीस लग सकता है। दोस्तों ये अनुमानित फीस है सही फीस के बारे में कॉलेज  जाकर ही पता चल पायेगा 

बीपीएड के बाद क्या करे 


बीपीएड करने के बाद आपके पास कई सारे करियर विकल्प मौजूद होते है। यदि आप बीपीएड की ग्रेजुएशन डिग्री हासिल करने के बाद आगे अपनी पढ़ाई जारी रखना चाहते है तो आप M.P.Ed मास्टर कोर्स कर सकते है जो 2 साल का होता है। वही यदि आप नौकरी करना चाहते है तो आप प्राइवेट तथा सरकारी दोनों तरह की नौकरी कर सकते है। 

बीपीएड के बाद करियर 


आज के समय में लगभग हर कोई अपने स्वास्थ्य को लेकर जागरूक हो रहे है। लोग खुद को मानसिक और शारीरिक तौर पर कुशल रखने के लिए अपने जीवन शैली में खेल और जिम को शामिल कर रहे है। यही वजह है आजकल फिटनेस ट्रेनर, शारीरिक शिक्षा के टीचर, खेल जगत के शिक्षको को मांग काफी ज्यादा बढ़ रही है। 

आज के समय में लगभग सभी शिक्षण संस्थान चाहे बड़े हो या छोटे एक फिजिकल एजुकेशन टीचर मौजूद होते ही है जो बच्चे को फिजिकल एजुकेशन प्रदान करते है। 

ऐसे में इस कोर्स को करने के बाद आप किसी शिक्षण संस्थान में फिजिकल एजुकेशन के टीचर, योग टीचर, फिटनेस ट्रेनर, खेल कोच आदि बन सकते है। यदि आप  नौकरी नहीं करना चाहते तो आप खुद का फिटनेस  सेंटर, योग सेंटर आदि भी शुरू कर सकते है। यहाँ तक की आप विदेशो में कार्य कर सकते है।  

बीपीएड करने के बाद वेतन 

इस कोर्स को करने के बाद जब आप फिजिकल एजुकेशन टीचर के तौर पर कही पर नौकरी करते है तो शुरुआत में 20,000 से  30,000 प्रतिमाह वेतन हासिल कर सकते है। वही आप फिटनेस ट्रेनर के तौर पर कार्य करते है तो वेतन 15,000 से 30,000 प्रतिमाह तक हो सकता है। 

जैसा जैसे आप इस क्षेत्र में अनुभवी होते जायेगे वैसे वैसे आपको कमाई भी बढ़ती जाएगी। एक अनुभवी फिजिकल फिटनेस ट्रेनर 1 लाख प्रतिमाह तक कमा सकता है। 

अन्य जानकारी 

Conclusion 

तो दोस्तों अब आप जान गए होंगे बीपीएड कोर्स करके किस प्रकार फिजिकल एजुकेशन के टीचर के तौर पर अपना करियर बना सकते है। इस लेख में हमने B.P.Ed Full Form, B.P.Ed क्या होता है कैसे करे, बीपीएड के लिए योग्यता, फीस, एंट्रेंस एग्जाम, बीपीएड के बाद करियर स्कोप के बारे में विस्तार से जाना। साथ ही देश में बीपीएड कोर्स करने के लिए बेस्ट कॉलेज कौन से है उसके बारे में भी जाना।  
मैं आशा करता हूँ हमारे द्वारा इस पोस्ट में दी गयी जानकारी आपके लिए उपयोगी रही हो। यदि आपको इस लेख की जानकारी अच्छी लगे तो इसे शेयर जरूर करे। और इस पोस्ट से जुड़े किसी प्रकार का सवाल या सुझाव हो तो कमेंट करके जरूर बताये। 

टिप्पणियाँ